Bollywood

Kamal Sadanah Flashback: काजोल के पहले हीरो के पिता ने ही उनकी मां और बहन की गोली मारकर कर दी थी हत्या

 Kajol First Actor Kamal Sadanah Tragic Life Story: कमल सदाना ने अपने करियर की शुरुआत 1992 में काजोल के साथ फिल्म बेखुदी से की थी. हालांकि फिल्म बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पायी थी, लेकिन इस फिल्म के बाद काजोल कई हिट फिल्मों के साथ एक सफल अभिनेत्री बन गईं. ‘बेखुदी’ के बाद कमल ने दिव्या भारती के साथ ‘रंग’ फिल्म में काम किया था. उनकी यह फिल्म सुपरहिट रही और कमाल देखते ही देखते 90 के दशक के सुपरस्टार बन गये. हालांकि, बॉलीवुड में आने से पहले अभिनेता को अपने जीवन में एक बहुत बड़े हादसे का सामना करना पड़ा था. क्या थी वह त्रासदी आइये आपको बताते हैं.

Kamal Sadanah
Kamal Sadanah Kajol in Bekhudi

 

कमल सदाना 6+.3-का जन्म 21 अक्टूबर 1970 को हुआ था. उनकी माता सईदा खान एक अभिनेत्री और पिता ब्रज सदन (Braj Sadanah) बॉलीवुड के जाने-माने निर्माता और निर्देशक थे. उन्होंने दो भाई, ये रात फिर ना आएगी, उस्तादो के उस्ताद, विक्टोरिया नंबर 203 और प्रोफेसर प्यारेलाल जैसी कुछ प्रसिद्ध फ़िल्मों का निर्देशन किया हैं.

Kamal Sadanah के पिता ने माँ-बहन को उतार दिया था मौत के घाट

रिपोर्ट्स के मुताबिक, 1990 में जब वह अपने 20वें जन्मदिन की तैयारी में व्यस्त थे. तभी उन्होंने अपने घर के एक कमरे से गोलियों की आवाज सुनी. गोली की आवाज सुनकर वह सुनकर चौंक गए. जैसे ही वह कमरे की ओर तेजी से गये तो कमल ने देखा कि उनके पिता बृज सदाना उनकी मां सईदा खान और बहन नम्रता को गोली मार रहे थे. जब तक वह उनके पास पहुंचे तब तक उसकी मां और बहन की गोली लग चुकी थी और दोनों बेहोशी की हालत में जमीन पर पड़ी हुई थीं.

जब मरते-मरते बचे थे  Kamal Sadanah

कमाल को देखकर उनके पिता ने भी अभिनेता को मारने की कोशिश की, लेकिन गोली उनकी गर्दन को छूते हुए निकल गई और वह बाल बाल बच गए. लेकिन कान के पास गोली लगने की वजह से वह भी बेहोस हो गये थे. जब उनकी आँख खुली तो वह हॉस्पिटल में थे. बाद की रिपोर्टों से उन्हें पता चलता है कि उनके माँ और बहन की हॉस्पिटल में मौत हो चुकी हैं और बाद में कमल के पिता ने भी खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली.

इस हादसे से उबरने में कमल सदाना को लगे 2 साल

अपने परिवार खोने के 2 साल बाद कमल ने अपने करियर की ओर कदम बढ़ाया और काजोल के साथ ‘बेखुदी’ में काम किया. उनकी इस फिल्म की कहानी रोहित और राधिका (कमल और काजोल) के बीच संबंधों की कठिनाइयों के इर्द-गिर्द घूमती है. इसके बाद, 1993 में, उन्होंने दिव्या भारती के साथ रोमांटिक फिल्म ‘रंग’ में अभिनय किया जो एक बड़ी सफलता थी.

साथ ही कमल ने अपने आपको एक अभिनेता के रूप में स्थापित किया. उन्होंने अपने फिल्मी करियर में तक़रीबन 15-16 फ़िल्मों में काम किया. लेकिन उन्हें रंग फिल्म जैसी सफलता दोबारा नही मिली.

 

 

फ़िल्मों में नही मिली सफलता तो कर लिया टीवी का रुख

इसके बाद कई सालों तक उन्होंने एक्टिंग से दूरी बना ली थी. इसी बीच उन्होंने 2000 में मेकअप आर्टिस्ट Lisa John से शादी की. एक्टर के 2 बच्चे एक बेटी और एक बेटा है. उन्होंने अपनी बेटी का नाम अपनी बहन के नाम पर रखा है. आज अभिनेता एक प्रोडक्शन कम्पनी के मालिक हैं.  कई सालों बाद 2007 में कमल ने एकता कपूर ने टीवी सीरियल ‘कसम से’ में काम किया.

कमल सदाना ने  निर्देशन में भी अजमाया हाथ

उन्होंने 2005 में कर्कश के साथ निर्देशन में भी प्रयास किया. जिसमे वह सुचित्रा पिल्लई के साथ अभिनय किया था. लेकिन यह फिल्म अच्छा प्रदर्शन नही किया और फिल्म फ्लॉप रही.कमल ने निर्देशन में भी हाथ आजमाया. उन्होंने अपने पिता की 1972 की हिट फिल्म की रीमेक विक्टोरिया नंबर 203 का निर्माण और उसमे भी अभिनय किया.

उनकी यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप साबित हुई. जबकि उनके पिता द्वारा निर्मित विक्टोरिया नंबर 203 सुपरहिट साबित हुई थी. इसके अलावा, उन्होंने 2014 की फिल्म रोअर्स: द टाइगर ऑफ सुंदरबन्स बनाई. आखिरी बार कमल ने काजोल के साथ 2022 में आई फिल्म सलाम वेंकी में काम किया, उस फिल्म में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.

यह भी पढ़ें:- Kissa: जब Madhuri Dixit को लेकर हुआ था जमकर विरोध! ‘चोली के पीछे’ सॉन्ग हो गया था बैन, लेकिन…

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *